Header Ads

Blog Mandli
indiae.in
we are in
linkwithin.com www.hamarivani.com रफ़्तार चिट्ठाजगत
Breaking News
recent

ग़ज़ल

by 11:00 pm
ग़ज़ल दर्द के ,प्यास के पर क़तर जायेंगे , मुद्दतों बाद हम अपने घर जायेंगे , रौशनी बंद गलियों में फिरती रही , यह अंधेरे दियों को निगल जायेंगे ...Read More
by 8:23 am
गीत अर्चना के पुष्प का यह थाल, ज्यों दीप्त दीपित , श्रेष्ठ ,उन्नत भाल , हर सुबह के साथ नया प्रकाश , नावों ने फहरा दिए फ़िर पाल,// अर्चना ......Read More

गीत

by 8:03 am
दिन बहुत बीते, नहीं अब याद मुझ को गीत पहला // रागिनी सी उम्र थी और प्यार था संतूर सा अश्रु कण भी नहीं थे और दर्द भी था दूर सा जी रहा...Read More

गीत

by 8:24 am
प्यास हूँ मै जिंदगी की प्यास हूँ , धूप का जलता हुआ अहसास हूँ , चाहता था मै गगन चूमूं कभी , पुष्प की इक पांख सा झूमूं अभी , पर चुभन से गीत मे...Read More
© डॉ.भूपेन्द्र कुमार सिंह. Blogger द्वारा संचालित.