Header Ads

Blog Mandli
indiae.in
we are in
linkwithin.com www.hamarivani.com रफ़्तार चिट्ठाजगत
Breaking News
recent

बाल गीत

मैं हूँ छोटा बच्चा ,
मम्मी कहतीं गोलू ,
पापा गले लगा कर कहते ,
मेरे प्यारे भोलू,
 दादा कहते भालू मुझको,
दादी कहती आलू ,
नानी कहती राजा भैया  ,
नाना कहते कालू,

सबके अलग -अलग नामों में ,
किन -किन पर मैं बोलूँ 
सर चक्र जाता मेरा तो ,
सचमुच हूँ क्या भोलू ?

2 टिप्‍पणियां:

  1. आत्मीय संबंधों को दर्शाती सुंदर भावपूर्ण रचना ,बधाई

    उत्तर देंहटाएं

© डॉ.भूपेन्द्र कुमार सिंह. Blogger द्वारा संचालित.